आज हम आपको एक ऐसी जानकारी बताने जा रहे है जिसको शायद आप लोगो ने कभी नही सुना होगा तो चलिए स्टार्ट करते है आज हम आपको बताने वाले है की आप जो अपना पर्सनल नंबर यूज करते है कही कोई और तो उसको यूज किसी आईडी में तो नही हो रहा ।

देश में ऐसे कई लोग हैं जो एक ही आईडी चाहे वो आधार कार्ड हो या वोटर आईडी पर कई सिम कार्ड ले लेते हैं और आसानी से उसका उपयोग करते रहते हैं। दूरसंचार विभाग (डीओटी) ने दूरसंचार सेवा प्रदाताओं (टीएसपी) द्वारा ग्राहकों को दूरसंचार संसाधनों का उचित आवंटन सुनिश्चित करने और धोखाधड़ी में कमी सुनिश्चित करने में उनके हितों की रक्षा करने के लिए कई उपाय किए हैं। मौजूदा दिशानिर्देशों के अनुसार, व्यक्तिगत मोबाइल ग्राहक अपने नाम पर अधिकतम नौ मोबाइल कनेक्शन पंजीकृत कर सकते हैं।

इस वेबसाइट को ग्राहकों की मदद करने, उनके नाम पर काम कर रहे मोबाइल कनेक्शनों की संख्या की जांच करने और उनके अतिरिक्त मोबाइल कनेक्शनों को नियमित करने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने के लिए विकसित किया गया है। हालांकि, ग्राहक अधिग्रहण फॉर्म (सीएएफ) को संभालने की प्राथमिक जिम्मेदारी सेवा प्रदाताओं की होती है। इस पोर्टल में प्रदान की जाने वाली सुविधाएं इस प्रकार हैं: जिन अभिदाताओं के नाम पर नौ से अधिक एकाधिक कनेक्शन हैं, उन्हें एसएमएस द्वारा सूचित किया जाएगा। अगर आप भी ऐसा करते हैं तो सावधान हो जाइए, क्योंकि नियम कहता है कि भारत में एक व्यक्ति की आईडी पर एक समय में अधिकतम नौ सिम कार्ड या मोबाइल नंबर ही चालू रह सकता है। अगर आपकी आईडी पर इससे ज्यादा सिम कार्ड रजिस्टर्ड हैं, तो आप पर कार्रवाई हो सकती है।

अब सवाल ये उठता है कि आखिर कैसे पता चले कि आपकी आईडी पर कितने सिम कार्ड रजिस्टर्ड हैं और उनका उपयोग हो रहा है। आइए जानते हैं इसके बारे में… The Telecom Analytics for Fraud management and Consumer Protection (TAF-COP) portal धोखाधड़ी प्रबंधन और उपभोक्ता संरक्षण के लिए दूरसंचार विश्लेषण (TAF-COP) पोर्टल दरअसल, भारतीय दूरसंचार विभाग का tafcop.dgtelecom.gov.in वेबसाइट से एक पोर्टल है, जिसमें देशभर में वर्तमान में चालू सभी मोबाइल नंबर का डाटाबेस मौजूद है। अगर आपको लगता है कि आपकी आईडी से कोई और भी सिम कार्ड यानी मोबाइल नंबर इस्तेमाल कर रहा है, तो आप इस वेबसाइट के जरिये शिकायत कर सकते हैं। इस पोर्टल को स्पैम और फ्रॉड पर लगाम लगाने के लिए लॉन्च किया गया है।

हालांकि फिलहाल यह सुविधा सिर्फ तेलंगाना और आंध्रप्रदेश सर्किल के लिए ही है, लेकिन माना जा रहा है कि जल्द ही इसे सभी सर्किल में लॉन्च किया जाएगा, ताकि देशभर के लोग इसका लाभ उठा सकें। अब आइए जानते हैं कि आपकी आईडी पर कितने मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड हैं, इसका पता लगाने के लिए आपको क्या करना होगा? सबसे पहले तो अपने मोबाइल फोन के ब्राउजर, लैपटॉप या किसी कंप्यूटर में tafcop.dgtelecom.gov.in ओपन करें और फिर वहां अपना मोबाइल नंबर डालें। अब आपके नंबर पर एक ओटीपी आएगा, उसे डालें और वैलिडेट करें। जैसे ही ओटीपी वैलिडेट होगी, आपके सामने उन सभी मोबाइल नंबरों की सूची आ जाएगी, जो आपकी आईडी पर चालू हैं। अगर आपको लगता है कि उनमें से कोई ऐसा नंबर है, जिसकी जानकारी आपको नहीं है, लेकिन आपकी आईडी से वो नंबर लिया गया है, तो पोर्टल पर ही उस नंबर को लेकर शिकायत कर सकते हैं। इसके बाद सरकार उस नंबर की जांच करेगी और फिर उसे ब्लॉक कर दिया जाएगा।

अगर ऐसे ही कुछ रोचक तथ्य के बारे में जानना चाहते है तो हमे कॉमेंट करें।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *