Author: Admin

आमला नवमी (इच्छा नवमी) (कार्तिक शुक्ल नवमी) क्या होता है | आमला नवमी क्यों मनाते है

इस व्रत के करने से व्रत, पूजा-तर्पण, आदि का फल अक्षय हो जाता है। इसलिए इसे ‘अक्षय नवमी’ भी कहते हैं। इस दिन गाय पृथ्वी, स्वर्ण तथा वस्त्राभूषणादि का देने…

tulsi ekadasi

तुलसी एकादशी (कार्तिक कृष्ण एकादशी) कब और कैसे मनाते है

तुलसी नामक पौधे की महिमा वैद्यक ग्रंथों के साथ-साथ धर्मशास्त्रों में भी काफी गाई गई है। शास्त्रों में तुलसी को विष्णु प्रिया भी माना गया है। इस विषय में एक…

tisua somwar

तिसुआ सोमवार (चैत्र-सोमवार)किसे कहते है | तिसुआ सोमवार कैसे मनाते है

चैत्रमास के चारों सोमवार ‘तिसुआ सोमवार’ कहलाते हैं। इन सोमवारों को जगदीश जी के पट तथा बेतों की पूजा होती है। इन सोमवारों का व्रत-पूजन वही लोग करते हैं जिन्होंने…

गोवत्स द्वादशी (भाद्रपद कृष्णा द्वादशी, कार्तिक कृष्ण द्वादशी)

इसे गोवत्स द्वादशी भी कहते हैं। इस दिन के लिए मूँग, मोठ तथा बाजरा अंकुरित करके मध्याह्न के समय बछड़े को सजाने का विशेष विधान है। व्रत करने वाले व्यक्ति…

शीतलाष्टमी

शीतलाष्टमी (चैत्र कृष्ण अष्टमी) कब मनाया जाता है।

शीतला महामारी की अधिष्ठात्री देवी मानी जाती हैं। भारत में चेचक (शीतला) का प्रकोप बड़े वेग से होता है। बचने के अनेक साधनों के होते हुए भी बहुत पहले से…

‘चन्द्र षष्ठी’ या ‘चानन छठ’ (भाद्रपद कृष्ण षष्ठी)

इस दिन कुमारी कन्यायें व्रत रखती हैं। सारा दिन न कुछ खाती हैं न पीती हैं। चानन छठ की कहानी सुनती हैं। इसके पूजन के लिए एक पाट पर जल…