Spread the love

माघ सूर्य सप्तमी को सूर्योदय के समय भगवान को गंगाजल से अर्घ्य देना चाहिए। अर्घ्य देकर रोली, मौली, चन्दन, चावल, फल-फूल, जनेऊ, धूप-दीप तथा दक्षिणा देने चाहिए। परिक्रमा लेनी चाहिए। अर्घ्य देते समय मंत्रों का उच्चारण भी करते रहना चाहिये ।


Spread the love

By Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.