Spread the love

पेट का अल्सर कितने दिनों में ठीक हो जाता है? अल्सर होने से क्या होता है? अल्सर में बुखार आता है क्या? alsar ke lakshan kya hai hindi me, क्या अल्सर का इलाज संभव है?

आज के समय में बहुत सारे लोग अल्सर से पीड़ित हैं। यह खतरनाक बीमारी है। ऐसे में यह जानना जरूरी है कि alsar ke lakshan kya hai hindi me। अल्सर क्या होता है हिंदी में इसे भी जानिए। क्योंकि जब आप बीमारी को जान लेंगे तो उससे बचने का उपाय भी खोज लेंगे। अगर बीमारी और उसके लक्षण को ही नहीं जानेंगे तो फिर उससे बचाव कैसे करेंगे। यही वजह है कि आज हम इस आर्टिकल को आपके लिए लाए हैं। दोस्तों, इस आर्टिकल में अल्सर से जुड़े आपके मन में जितने भी सवाल हैं उसका उत्तर यहां मिल जाएगा। इसलिए अंत तक इस आर्टिकल को जरूर पढ़िएगा और हां अच्छा लगे तो शेयर भी करिएगा।

अल्सर दरअसल, शरीर के अंदर छोटी आंत के शुरुआती जगह पर होने वाला घाव है जो छाले के रूप में दिखता है। आंत का शुरुआती जगह यानी जिसे म्यूकल झिल्ली कहते हैं, वहीं पर ये छाले होते हैं। कई बार लोग शुरुआत में ध्यान नहीं देते हैं और यही घाव ऐसा नासूर बन जाता है कि कैंसर का रूप पकड़ लेता है और फिर इसका इलाज मुश्किल हो जाता है।

अगर alsar ke lakshan kya hai hindi me के तहत अल्सर के पीछे के कारणों की बात करें तो पेट में एसिड का बढ़ना सबसे बड़ा कारण है। इसके अलावा बड़ी मात्रा में चाय और कॉफी का सेवन करना भी इसके पीछे वजह है। कुछ लोग सिगरेट और शराब खूब इस्तेमाल करते हैं। ऐसे लोग भी बाद में जाकर अल्सर से पीड़ित हो जाते हैं। वहीं जरूरत से अधिक खट्टा चीज खाएंगे या अधिक गर्म पेय पदार्थ या कोई भी खाना बेहद गर्म खाएंगे तो फिर इसकी दिक्कत हो सकती है। तो चलिए बिना किसी देरी के अब आपको बता देते हैं कि आखिर अल्सर होता क्या है।

अल्सर क्या होता है हिंदी में

दोस्तों, अल्सर एक तरह का घाव है जो कि आंत की अंदरूनी सतह पर दिखता है। यह पेट में भी छाले के रूप में भी होता है। अगर पेट का अल्सर है तो इसे मेडिकल टर्म में गैस्ट्रिक अल्सर कहा जाता है। वहीं आंत के अल्सर को डुओडिनल अल्सर के नाम से जाना जाता है।

अल्सर पेट में या आंत में एसिड की अधिकता के कारण होता है। एसिड का दुष्प्रभाव ही इसका जनक है। इस सतह से जब एसिड मिलता है तो वह धीरे-धीरे घाव या छाले का रूप ले लेता है। समय से इलाज नहीं होने के कारण यह बढ़ जाता और दिक्कतें पैदा कर देता है।

इसका मतलब साफ है कि गलत खानपान और आजकल के खराब लाइफ स्टाइल ही अल्सर को बढ़ा रही है। खराब खानपान से शरीर के अंदर एसिड बढ़ रहा है और जब तक हम चेतते हैं तब तक यह अल्सर का रूप ले लेता है। उदाहरण के लिए अक्सर आपने देखा होगा कि लोग पेट फूलने की शिकायत करते हैं। यह अल्सर का ही शुरुआती रूप है जो बता रहा है कि शरीर में एसिड की मात्रा बढ़ रही है। alsar ke lakshan kya hai hindi me के तहत अब जानें कि इसके लक्षण क्या हैं।

पेट में अल्सर होने के लक्षण क्या हैं | alsar ke lakshan kya hai hindi me

कई ऐसे लक्षण हैं जिसे देखते ही आप समझ जाएंगे कि शरीर अब अल्सर का शिकार होने लगा है। उल्टी होना और उल्टी में ब्लड आए तो समझिए कि शुरुआत हो गई है। इसके अलावा तेजी से वजन कम हो तो भी समझिए कि अल्सर होने लगा है। नीचे हम इसके सभी लक्षणों के बारे में बता रहे हैं।

  • उल्टी होना
  • पेट फूला-फूला दिखना
  • जी मचलाना और सिर में दर्द होना
  • रात में खाने के बाद पेट में तेज दर्द शुरू होना
  • गैस और खट्टी डकार से परेशान हो जाना
  • भूख नहीं लगना
  • वजन का तेजी से घटना
  • पेट के ऊपरी हिस्से में हमेशा दर्द रहना
  • पेट में हमेशा भारीपन रहना

एक सेकंड के लिए यहां रुके प्लीज

दोस्तों, हमें आपके सहयोग की जरूरत है। प्लीज आप गूगल में टाइप करें kyahotahai.com और फिर हमारे वेबसाइट पर आकर अपने पसंद की हर स्टोरी पढ़ें। गूगल में आप हमारे वेबसाइट को सर्च करके आएंगे तो हम आगे बढ़ेंगे और आपके लिए इसी तरह से ज्ञानवर्धक पोस्ट लाते रहेंगे। प्लीज इतनी मदद कर दीजिए, लव यू दोस्तों)

अल्सर को ठीक होने में कितना टाइम लगता है?

अल्सर को अगर शुरुआत में आप पकड़ लिए तो फिर यह 10-15 दिन में दवा से ठीक हो जाता है। अगर यह कैंसर का रूप ले लिया तो फिर इसका इलाज बेहद मुश्किल हो जाएगा। बल्कि नामुमकिन हो जाएगा। इसलिए थोड़ा भी लक्षण दिखे तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

कई लोग पेट में गैस होने पर लापरवाही करते हैं। उन्हें लगता है कि गैस ही तो है और वे गैस की दवा खाते रहते हैं। दर्द होने पर दर्द की दवा ले लेते हैं। इससे तुरंत आराम तो मिल जाएगा लेकिन बीमारी खत्म नहीं होती है। इसी लापरवाही के चलते यह घाव बाद में विकराल रूप लेकर आंत का कैंसर बन जाता है। ऐसे में जरूरी है कि कोई भी एक लक्षण ऐसा दिखे तो पहले डॉक्टर से संपर्क कर उचित सलाह लें। alsar ke lakshan kya hai hindi me के तहत अब जानें कि इसे ठीक करने का घरेलू उपाय क्या है।

अल्सर को ठीक करने का घरेलू उपाय

  • मुलेठी को सबसे बड़ा घरेलू उपाय बताया जाता है। एक गिलास पानी में एक छोटा चम्मच मुलेठी पाउडर मिलाकर उसे घोल कर रख लें। 15 मिनट तक रखने के बाद इसे छानकर आपको पी लेना है।
  • गुड़हल की पत्तियां भी सबसे रामबाण उपाय है। इसकी पत्तियों को पीसकर पीना है। अगर सीधे न पी जाए तो इसका शरबत बनाकर पी लीजिए।
  • गाजर और पत्तागोभी को मिलाकर इसका जूस निकालर पीने से भी फायदा मिलेगा।
  • मेथी के दानों को एक गिलास पानी में उबाल लें। अब इसमें एक चम्मच शहद मिलाकर पी जाएं।
  • आंवले का पानी भी फायदेमंद है। इसके लिए एक गिलास पानी में दो चम्मच आंवेला का चूर्ण लीजिए। अब इसमें पीसा हुआ सोंठ और मिश्री मिलाकर गटक जाइए।
  • नींबू रस और ठंडा दूध का मिश्रण भी फायदेमंद है।
  • (नोट- घेरलू उपाय जरूर अपनाएं लेकिन डॉक्टर की सलाह लेकर इलाज भी कराते रहें)

अल्सर के कारण क्या हैं हिंदी में

अल्सर सिर्फ एसिड अधिक होने से नहीं होता बल्कि आजकल इसके कई कारण हैं। जैसे-तनाव, डिप्रेशन आदि। नीचे पूरी लिस्ट दे रहा हूं।

  • तनाव में रहना।
  • डिप्रेशन का शिकार होना
  • मसालेदार और बासी खाना खाना
  • फास्ट फूड का सेवन अधिक करना
  • शराब और सिगरेट का सेवन करना
  • चाय और कॉफी अधिक पीना
  • खट्टी और गरम चीज अधिक खाना
  • लंबे समय तक दर्द वाली गोली या एंटीवायटिक गोली खाने से भी होता है

इसे भी पढ़िए मजा आएगा

सेक्स एजुकेशन से जुड़ी हर जानकारी

लड़के लड़कियों से जुड़ी हर तरह की शायरी, एटीट्यूड शायरी

क्या अल्सर ठीक हो सकता है?

देखिए अल्सर कई तरह का होता है। जैसे अगर अल्सर पेप्टिक अल्सर है तो फिर यह कैंसर का रूप नहीं लेगा। यह सिर्फ एक घाव के रूप में होगा जिसे दवा से ठीक किया जा सकता है। शुरुआती लक्षण पकड़ते ही तुरंत डॉक्टर के पास जाएं और इलाज शुरू कर दें। alsar ke lakshan kya hai hindi me के सर्च में लोग यह जरूर जानना चाहते हैं कि यह ठीक होता है या नहीं।

अगर पेट का अल्सर है यानी गैस्ट्रिक अल्सर है और अगर इसे समय से नहीं पकड़ा गया तो यह कैंसर का रूप ले सकता है। ऐसे में इसका इलाज बहुत मुश्किल हो जाएगा और कई केस में नामुमकिन हो जाएगा। ऐसे में बेहतर यही है कि आप तुरंत इलाज लें और इसे दूर करने की कोशिश करें।

यह जान लीजिए कि अल्सर ठीक होता है। कई लोग अल्सर से 10 दिन में ही ठीक हो जाते हैं। शुरुआत में ही अगर आप इसे पकड़ लिए तो दवा और खानपान में परहेज से आसानी से आप इस पर जीत हासिल कर लेंगे। लेकिन अगर शुरुआत में लापरवाही करेंगे तो फिर दिक्कत हो जाएगी। ऐसे में जरूरी है कि जो भी लक्षण हैं उसे देखिए और अगर एक भी लक्षण दिखे तो पहले डॉक्टर के पास जाइए।

(दोस्तों उम्मीद है कि अल्सर क्या होता है के बारे में हमने आपको सारी जानकारी दे दी है। आप क्या होता है से जुड़ा हर आर्टिकल पढ़ने के लिए गूगल में टाइप करें- kyahotahai.com। हमारी वेबसाइट को गूगल में सर्च करके पढ़िए और हमारा सहयोग कीजिए। यहां सेक्स एजुकेशन, लव स्टोरीज, सरकारी योजना, इंफॉर्मेटिव स्टोरी सबकुछ मौजूद है। तो प्यार देते रहिए। लवयू )



Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.