UPI एक ऐसी टेक्नोलॉजी है, जिसकी मदद से हम मोबाइल एप्लीकेशन से ही आसानी से पैसा डायरेक्ट बैंक to बैंक ट्रांसफर कर सकते है।
इस पेमेंट टेक्नोलॉजी को लगभग सभी पेमेंट्स एप्लीकेशन और बैंकिंग एप्लीकेशन प्रोवाइड करती है।
UPI को लाने का सिर्फ एक ही मक़सद था कि एक ही एप्लीकेशन से आप अपने अकाउंट से किसी को भी पैसा ट्रांसफर किया जा सके.
UPI को NPCI (National Payments Corporation of India) ने 2015 में बनाया था।
रिज़र्व बैंक (RBI) के द्वारा UPI को सपोर्ट किया जाता है।
UPI से पैसे भेजने के लिए कोई चार्ज नहीं लगता है।

UPI full form in hindi
UPI की फुल फॉर्म Unified Payments Interface होता है. हिंदी में UPI का फुल फॉर्म एकीकृत भुगतान इंटरफेस होता है

UPI = Unified Payments Interface

UPI कैसे काम करता है (How UPI works)

जैसा कि हम सभी ये जानते है कि UPI से पहले हमे पैसा भेजने के लिए Internet banking का सहारा लेना पड़ता था, जिसमे हमे Payment Receiver का बहुत सारा इनफार्मेशन कि ज़रूरी पड़ती थी, मगर UPI से पैसे भेजने के लिए हमे पेमेंट रिसीवर का केवल UPI ID की ही ज़रूरत होती है। अब ये upi id क्या होता है और ये कैसे बनता है?

UPI ID को Virtual Payment Address (VPA) भी कहते है। यह एक email id के जैसा होता है, दरअसल हर किसी को UPI ID बनाने के लिए आपको Debit Cart (ATM Card) की ज़रूरत पड़ेगी और आपके अकाउंट में एक मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड होना अनिवार्य होता है, क्यू कि UPI ID बनाने के लिए आपको एक वेरिफिकेशन के लिए OTP आएगा। जब सब कुछ ठीक से वेरीफाई हो जाएगा तब आपका एक UPI ID क्रिएट हो जाएगा। अब आपको अगर किसी से पैसा लेना हो तो आप बस ये UPI ID उसे देंगे और Payment Sender आपका UPI ID पर पैसे भेज पाएगा।

तो यानी इससे पता चलता है कि UPI के ज़रिये पैसा भेजना बहुत आसान है इसमें न ही अकाउंट नंबर, न ही नाम, और न ही IFSC Code, और न ही अन्य सारे इनफार्मेशन कि ज़रूरत पड़ती है।

UPI ID कैसे CREATE करे ? How to create UPI ID in hindi ?

UPI ID बनाने का तरीक़ा हर UPI Apps पर लगभग एक जैसा ही है। UPI ID जेनेरेट करने के लिए आपके पास आपके बैंक से लिंक्ड मोबाइल नंबर और DEbit card/ATM Card/Credit card ka आपके पास होना ज़रूरी है। उसके बाद निचे के टिप्स को ध्यान से करना होता है।

अपने स्मार्ट फ़ोन में कोई भी UPI App जैसे की BHIM APP (Bharat Interface for Money), Google pay, Phone Pay या पेटम जैसे अप्प को इनस्टॉल कर ले।
App में अपना UPI प्रोफाइल क्रिएट करने के लिए आपको रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर को उस अप्प में OTP के माध्यम से वेरीफाई करवाना होगा।
इसके बाद Add Bank Account के ऑप्शन में जा कर जिस बैंक में आपका अकाउंट हो उस बैंक को सलेक्ट कर ले, फिर डेबिट कार्ड (Atm Card / Credit Card) की कुछ डिटेल्स पूछी जाएंगी जो आपको वहां पर डालनी होगी।
उसके बाद आपको सिक्योरिटी पर्पस के लिए आपको UPI PIN भी क्रिएट करना पड़ेगा जो की किसी App में 4 तो किसी App में 6 अंको का होता है, यह पिन की ज़रूरत हमेशा आपको पैसा ट्रांसफर करने के टाइम पड़ेगी तो आपको ये पिन हमेशा याद रखनी पड़ेगी.
इसके बाद आपके सामने आपकी UPI Id (Virtual Payment Address) क्रिएट हो के आ जाएगी जो की Email Id जैसा दिखेगा

UPI का उपयोग कैसे हो रहा है


इसके लिए हमे अपने बैंक की Mobile banking App इनस्टॉल करनी होगी और उसमे UPI के सेक्शन में जा के UPI ID जेनेरेट करनी पड़ती है। उसके बाद हमे एक Virtual payment address यानी UPI ID मिल जाती है.
बैंको के अलावा Third party application के ज़रिये भी हम UPI ID क्रिएट कर सकते है, जैसे में BHIM APP (Bharat Interface for Money ), Google Pay, Phone Pay, Paytm, और भी अन्य सारी UPI से जुडी App का इस्तेमाल कर सकते है, मगर थर्ड पार्टी App के ज़रिये UPI ID क्रिएट करने के लिए APP को बैंक के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से लिंक करना होगा।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *