E-RUPI क्या होता है?
देखा जाय तो हमारे देश के प्रधानमंत्री जी इस समय डिजिटल बनाने की कोशिश में लगे हुए है।जिसमे मोदी जी ने
E-RUPI को 2 अगस्त 2021 को लॉन्च किया। इसको लाने का सिर्फ एक ही उद्देश्य है की लोग कैश छोड़ डिजिटल मार्केट। की तरफ बढ़े और जायदा से ज्यादा लोग जागरूक हो।


E-RUPI डिजिटल भुगतान
भारत सरकार द्वारा ये अहम भुगतान प्रणाली है जो भारतवासियों को कैश लेश बनाना चाहती है

चलिए हम आपको लेके चलते है और बताते है की E-RUPI क्या होता है और इसका उपयोग कैसे किया जा सकता है?

E-RUPI क्या है?

E-RUPI का full फॉर्म- इलेक्ट्रॉनिक रुपया यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस है
E-RUPI (NPCI) नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया
ने कैशलेस को बढ़ावा देने के लिए यह वाउचर-बेस्ड भुगतान प्रणाली लॉन्च की है वित्तीय सेवा विभाग, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के सहयोग से इसे विकसित किया गया है। जिससे लगता है की यह एक बहुत ही कारगर साबित होगा। सरकार द्वारा।

इलेक्ट्रॉनिक रूपये के माध्यम से भारत सरकार ने भारत में एक इलेक्ट्रॉनिक ई-वाउचर प्रणाली लाने की कोशिश की है। यह प्रीपेड ई-वाउचर के रूप में काम करेगा जिसका भुगतान आप बिना किसी परेशानी के कर सकते हैं।
अगर आपको कही भी भुगतान करने में दिक्कत या परेशानी होती है तो ये सरकार द्वारा एक ऐसा भुगतान का माध्यम होगा जिससे आपको क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड या किसी अन्य सेवा की आवश्यकता नहीं है। इस इलेक्ट्रॉनिक लॉन्चिंग को लेकर पीएमओ ने कहा कि कई सालों से हम कई पेमेंट सॉल्यूशंस लॉन्च कर रहे हैं। और सरकार ये चाहती है की आजकल जितने भीं तरह के फ्रॉड हो रहे है उससे आम जनता बच सके ।

E-RUPI

आइए हम आपको बताते है की E-RUPI ऐप से क्या क्या लाभ हो सकते है –
1.यह आपके पास प्रीपेड बाउचर के रूप में आएगा जो
उपयोगकर्ताओं को केवल टैप करके भुगतान करना होगा। इसमें आपको किसी भी प्रकार की नेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग आदि की कोई जरूरत नहीं होगी।

  • सबसे अच्छा लाभ यह है कि भुगतान सफलतापूर्वक होने के बाद ही सेवा प्रदाता को पैसा मिलेगा।
  • निजी क्षेत्रो में भी आप इस ई-रूपी ऐप का लाभ उठा सकते हैं। वे कर्मचारी कल्याण कार्यक्रमों के तहत केवल वाउचर का लाभ उठा सकते हैं।

E-RUPI ऐप का उपयोग कैसे कर सकते हैं हम आपको बताते है स्टेप बाय स्टेप
1.सबसे पहले इसको रजिस्टर्ड करने के लिए आपको अपने मोबाइल नंबर का उपयोग करके E-RUPI पर पंजीकरण करना होगा।

2.अब इसमें आप उस सेवा का चयन करें जिसे आप किसी के साथ भेजना या साझा करना चाहते हैं। आप बहुत ही आसानी से कर सकते है।

3.आप इसे किसी भी स्वास्थ्य संबंधित देख-भाल योजनाओं, सरकारी योजनाओं के वाउचर और अधिक जगहों पे इसका चयन कर सकते हैं।

4.अब इसे लाभार्थी के मोबाइल नंबर पर भेजें और वे इसे एसएमएस या क्यूआर कोड के रूप में प्राप्त करेंगे।

5.अंत में इस क्यूआर कोड को किसी भी नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र या अस्पताल में दिखाना होता है। जिससे आपको उससे राहत मिल सकती है।

E-RUPI ऐप को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर पे जाए।

प्ले स्टोर पर सर्च बार पर क्लिक करें और E-RUPI मोबाइल ऐप डालें। इसके बाद सर्च आइकॉन पर क्लिक करें। अब आपको ऐप्स की लिस्ट दिखाई दे रही है, आपको लिस्ट में E-RUPI पर क्लिक करना है।

एक नया पेज ओपन, जहां एक हरा रंग इंस्टाल बटन प्रदर्शित होता है। RUPI ऐप डाउनलोड करने के लिए कृपया इंस्टॉल बटन पर क्लिक करें।

E-RUPI डिजिटल भुगतान प्लेटफॉर्म का उद्देश्य मुख्य उद्देश्य ऑनलाइन भुगतान को अधिक आसान और सुरक्षित बनाना है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *