Backlink क्या होता है? और इसके क्या फायदे है?

अगर आप SEO के बारे में जानते है तो आप backlink जैसे शब्द बहुत सुने होंगे और आपके मन में ये सवाल आता होगा कि आखिर ये backlink kya hai है? दरअसल आपके वेबसाइट पर SEO करने में बैकलिंक बहुत महत्वपूर्ण होता है, इसलिए आपको बैकलिंक के बारे में अच्छे से जान लेनी चाहिए.

सबसे पहले ये जान लीजिये कि अगर आपके अपने वेबसाइट के पेज पर आपके अपने ही उसी वेबसाइट के दूसरे पेज का लिंक लगाया है तो ये Backlink नहीं होता है ये Internal link होता है.

दरअसल अगर आपकी वेबसाइट कि लिंक किसी दूसरे वेबसाइट के पेज में ऐड किया हुआ है तो इसे Backlink कहते है. यानी आपके पेज पर ट्रैफिक किसी दूसरे वेबसाइट पर से आ रही है. जो कि SEO में काफी महत्व रखता है. और आपके पास जितना बैकलिंक होगा वो आपके वेबसाइट के लिए अच्छा होगा. ऐसे में सर्च इंजन पर रैंक करना आसान हो जाएगा. मगर इसमें एक बात का ध्यान रखना परता है कि आपकी बैकलिंक जिस वेबसाइट पर है वो पॉपुलर कितना है. उस पर कितने ट्रैफिक आते है. अगर आपको जहाँ से बैकलिंक मिल रहा है और वहाँ पर ट्रैफिक नहीं आ रहा तो फिर ये Quality backlink नहीं होता है. सर्च इंजन इसे महत्व नहीं देगा और आपके वेबसाइट को रैंक नहीं करेगा.

ये भी पढ़े:- SEO क्या है और यह कैसे किया जाता है ?

Backlink के फायदे

बैकलिंक के सबसे बड़ा फायदा ये होता है कि आपको मुफ्त में ट्रैफिक मिल जाता है. यानी जहाँ से बैकलिंक मिल रहा है वहाँ के ट्रैफिक आपके वेबसाइट पर आने लगते है, तो सर्च इंजन ये समझता है कि आपकी कंटेंट में क्वालिटी है इसलिए तो दूसरे वेबसाइट के ट्रैफिक भी आपके वेबसाइट पर आना चाहते है. तभी सर्च इंजन आपके वेबसाइट को रैंक करना शुरू कर देता है. बैकलिंक बनाने के लिए आप दूसरे ब्लॉग्गिंग वेबसाइट पर जाकर कमेंट में अपने लिंक डाल दिया करे. कभी कभी अगर आपकी वेबसाइट पॉपुलर होजाने के बाद फिर आपको बहुत से बैकलिंक मिलना शुरू हो जाएगा.

पाठको को धन्यवाद

हम अपने पाठको से आशा करते है कि आपको हमारा ये पोस्ट Backlink in hindi पसंद आया होगा और आपको आपके प्रश्न का उत्तर भी मिल गया होगा। अगर फिर भी आपके मन में कुछ सवाल रह जाता है तो आप हमे कमेंट में पूछ सकते है या kyahotahai@outlook.com पर ईमेल कर सवाल पूछ सकते है। हम हमेशा आपके सवालो का जवाब देने के लिए तैयार रहते है। हम हमेशा से हर चीज़ को सरल भाषा और अपने मात्र भाषा हिंदी में समझने कि कोशिश करते रहे है।

Leave a Reply