1- 2017 के बाद गर्भवती हुई महिलाएं इस योजना का लाभ ले सकती हैं। लेकिन सरकारी नौकरी करने वाली गर्भवती महिला को लाभ नहीं मिलेगा। 2- योजना के तहत 6000 रुपये की मदद की जाती है।  आगे है- कब कब  मदद मिलेगी-

पीएम मातृत्व वंदना योजना 10 जरूरी बातें

3-गर्भवती महिलाओं को तीन किश्तों में यह पैसा दिया जाता है। पहला रजिस्ट्रेशन के समय, दूसरा गर्भ के छह महीने बाद और तीसरा बच्चे के जन्म के समय। 4- योजना का लाभ लेने के लिए गर्भवती महिला और उसके पति दोनों का आधार कार्ड अनिवार्य है।  5- इस योजना के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से आवेदन कर सकते हैं।  6- ऑफलाइन आवेदन के लिए आशा बहू या एनएम कार्यकर्ता से मिलकर फॉर्म भर दें।