कैसे पता लगाये की ओवुलेशन हो रहा है? ovulation kya hota hai in hindi, प्रेग्नेंट होने के सबसे ज्यादा चांस कब होते हैं?

कोई भी महिला जिसे मां बनने की इच्छा होती है वह ovulation के समय ही संभोग करना चाहती है। अब आपके दिमाग में पहला सवाल यही आ रहा होगा कि ovulation kya hota hai in hindi? इस दौरान एक सवाल और लोग पूछते हैं- प्रेग्नेंट होने के सबसे ज्यादा चांस कब होते हैं? कुछ महिलाओं को पता ही नहीं चल पाता कि ओवुलेश हो रहा है या नहीं तो वे जाना चाहती हैं कि कैसे पता लगाये की ओवुलेशन हो रहा है? इन सारे सवालों का जवाब आज इस आर्टिकल में आपको मिल जाएगा। तो दोस्तों, चलिए शुरू करते हैं। और हां, ये बहुत ही जरूरी जानकारी है इसलिए इसे शेयर जरूर करिएगा।

ovulation यानी अंडोत्सर्ग वह समय होता है जब आपके गर्भवती होने की संभावना सबसे अधिक होती है। यानी इस दौरान अगर आप संभोग करती हैं तो 90 फीसदी चांस होता है कि आप गर्भवती हो जाएं। ऐसे में आपको इस समय के बारे में जानना बेहद जरूरी है वह भी तब जब आप बच्चे के लिए प्लानिंग कर रही हैं।

ऐसा इसलिए क्योंकि इस समय महिला के गर्भाशय से निकलने वाला अंडा पुरुष के वीर्य से मिलने के लिए पूरी तरह तैयार रहता है। जब ये मिलते हैं तभी महिला गर्भवती होती है। ऐसे में अगर बच्चे की प्लानिंग कर रहे हैं तो कपल्स के लिए यह समय बेहद अहम है। ऐसे में हर महिला के लिए जरूरी है कि वह अपने पीरियड और ovulation के डेट के बारे में जरूर जाने। अगर आपको इसकी जानकारी नहीं हो पाती है तो हम नीचे विस्तार से बता रहे हैं कि कैसे आप अपना ovulation डेट खुद जान सकती हैं।

तो चलिए सबसे पहले जान लेते हैं कि ovulation kya hota hai in hindi. इसके बाद हम जानेंगे कि महिलाओं में ovulation के संकेत क्या हैं? और कैसे पता लगाये की ओवुलेशन हो रहा है? ओवुलेशन के कितने दिन बाद गर्भ ठहरता है? बच्चे पैदा करने के लिए कितनी बार करना पड़ता है? इन सभी सवालों का जवाब बारी-बारी से जानेंगे।

सेक्स एजुकेशन से जुड़ी हर जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

घर बैठे पैसे कमाने के सभी ट्रिक जानिए यहां पर

ovulation क्या होता है हिंदी में | ovulation kya hota hai in hindi

ओवुलेशन मासिक चक्र का ही एक हिस्‍सा होता है। जब ओवरी में एग रिलीज होता है, तब ओवुलेशन होता है। आसान शब्दों में कहें तो ओवुलेश पीरियड वह समय होता है जब महिला का शरीर सबसे अधिक फर्टिलाइज होता है। इस समय संभोग करने से उसके गर्भवती होने के चांस सबसे अधिक हो जाते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि इस समय महिला के गर्भाशय से निकले अंडे पुरुष के वीर्य से मिलने के लिए तैयार होते हैं। जैसे ही ये मिलते हैं महिला गर्भवती हो जाती है।

यही वजह है कि किसी भी महिला को प्रेग्नेंट होने के लिए इस पीरियड का खास ध्यान रखना होता है. आमतौर पर 28 दिनों के मासिक चक्र में ovulation पीरियड 14वें दिन के आसपास शुरू होता है। यानी जब आपका मासिक धर्म शुरू होता है उसके आधे दिन के बाद यह पीरियड शुरू होता है। ऐसे में आप समझ सकती हैं कि आपके पीरियड आने का जो भी डेट है उसमें 13-14 दिन जोड़ लें और आगे के दिन अब ovulation पीरियड हैं।

तो ऐसे में जिस महिला को गर्भधारण करना है वह इस पीरियड में संभोग करे और जो गर्भवती नहीं होना चाहती वह भूलकर भी बिना कंडोम के इन दिनों में संभोग ना करें। क्योंकि इन दिनों में गर्भवती होने के चांस सबसे अधिक होते हैं। चलिए अब ovulation kya hota hai in hindi के तहत जान लेते हैं कि कब शुरू होता है Ovulation पीरियड…

ओवुलेशन कब होता है हिंदी में | Ovulation in Hindi

ओवुलेशन आमतौर पर महिला के पीरियड के 10वें दिन से 19वें दिन के बीच होता है। सबसे बेहतर ओवुलेशन पीरियड 14वें और 15वें दिन को माना जाता है। यानी अगर आपका पीरियड 28 दिन का होता है और एक तारीख को पीरियड आता है तो 14 वें दिन यानी 14 तारीख को आप संभोग करें तो गर्भवती होने के चांस अधिक हो जाते हैं। तो सीधा सीधा जान लीजिए कि आपके पीरियड के मध्‍य के चार दिन पहले और चार दिन बाद ओवुलेशन शुरू होता है।

यह ध्यान रखिए कि ओवुलेशन पीरियड बहुत ही छोटा होता है। इसलिए अगर मां बनना है तो इस पीरियड के हर दिन का भरपूर फायदा उठाना होगा। यानी पीरियड के 10वें दिन से लेकर 19वें दिन रोज संभोग करिए। इस दौरान लगातार अपने पति के साथ रहिए। क्योंकि यह दिन निकल जाने के बाद चांस कम हो जाएंगे।

आपको यह भी जानना चाहिए कि आपके गर्भाश्य से अंडा रिलीज होने के 12 से 24 घंटे के अंदर ही वह फर्टिलाइज हो सकता है। कुछ विशेष स्थितियों में ही वीर्य महिलाओं के प्रजनन मार्ग में 5 दिनों तक रह सकता है। अगर इस बीच में आपका अंडा और आपके पति का वीर्य मिल गया तो फिर आप आसानी से प्रग्नेंट हो जाएंगी। आप पता भी कर सकती हैं कि आपका ओवुलेशन कब हो रहा है? यह इसलिए क्योंकि इसका लक्षण पता चलने लगता है। चलिए नीचे आपको इसके लक्षण के बारे में बताते हैं।

महिलाओं में ovulation के संकेत क्या हैं | कैसे पता लगाये की ओवुलेशन हो रहा है?

महिलाएं आसानी से खुद पता कर सकती हैं कि उनमें ओवुलेशन हो रहा है या नहीं। नीचे हम इसके पूरे लक्षण बता रहे हैं देखिए-

  • इस समय योनि से निकलने वाला लिक्विड पहले के मुकाबले अधिक गाढ़ा और चिपचिपा होता है
  • इस समय महिलाओं का तापमान बढ़ जाता है
  • पेट के नीचे हल्का दर्द हो सकता है
  • आपका स्तन बहुत ही मुलायम और खूबसूरत हो जाता है
  • मतली या सिरदर्द की दिक्कत आ सकती है
  • इस समय संभोग की इच्छा बढ़ जाती है
  • योनि में आपके सूजन आ जाएगा

बच्चे पैदा करने के लिए कितनी बार करना पड़ता है?

कहते हैं कि ज्यादा संभोग करने से नहीं बल्कि सही समय पर संभोग करने से ही महिला गर्भवती होती है। यही वजह है कि एक बार किया हुआ संभोग भी महिला को गर्भवती कर सकता और कभी-कभी सालों के प्रयास से भी महिला गर्भवती नहीं होती है। वैसे एक्सपर्ट्स के मुताबिक हर हफ्ते कम से कम दो दिन संभोग जरूर करिए। इससे ये होगा कि अगर आपको यह नहीं भी मालूम होगा कि ovulation पीरियड कब है तो भी चूंकि आप हर दो दिन पर संभोग कर रहे हैं तो आपके चांस अधिक हो जाएंगे।

इसके अलावा पीरियड के 10 दिन बाद और 19वें दिन तक हर रोज संभोग करिए। इस दौरान आपके गर्भवती होने के चांस सबसे अधिक हैं। क्योंकि यह ovulation पीरियड का समय है। इसलिए इस समय को गंवाइए मत.

इसे भी पढ़ें-

पेलापेली क्या होता है, पेलापेली कैसे करें

मुठ एक दिन में कितनी बार मारें, लड़कियां मुठ कैसे मारें

दोस्तों उम्मीद है कि आपको ovulation kya hota hai in hindi के बारे में सभी जानकारी मिल गई होगी। अगर अब भी आपके मन में कोई सवाल है तो नीचे कमेंट में जरूर पूछिए। हम तुरंत जवाब देंगे। हमारे वेबसाइट को गूगल पर सर्च करते रहिए। आपके सहयोग से ही हम आगे बढ़ेंगे। लव यू दोस्तों





Leave a Reply

Your email address will not be published.