कामुक कौन होता है, कामुकता क्या है, kamuk ka matlab kya hota hai, कामुक कौन लोग होते हैं

kamuk ka matlab kya hota hai: दोस्तों, अगर आपने सुना होगा कि लोग कहते हैं कि वो बहुत ही कामुक इंसान है। उसके अंदर तो कामुकता भरी हुई है। यह सुनने के बाद आपके मन में भी पहला सवाल यही आता होगा कि आखिर कामुक कौन होते हैं? कामुक किसे कहते हैं? कामुक का मतलब क्या होता है? कैसे लोगों को कामुक बोलते हैं? कामुकता क्या है? इस आर्टिकल में आपको इन सारे सवालों के जवाब मिल जाएंगे। तो अंत तक पढ़िएगा और शेयर जरूर करिएगा।

दोस्तों, कामुक इंसान को अश्लील इंसान भी कहा जाता है। ये इंसान हर समय काम वासना में होते हैंयानी इनके भीतर हमेशा ही हवस होती है। यह हमेशा ही किसी भी मांसल बदन को शिकार बनाना चाहते हैं। ज्यादातर कामुक लोग पुरुष होते हैं। वैसे कुछ स्त्रियां भी कामुक होती हैं।

कामुक पुरुष और कामुक स्त्री में क्या अंतर है यह भी आप इस आर्टिकल में पा जाएंगे। यहां हम विस्तार से इसके बारे में भी बताएंगे। आखिर वे कौन से पुरुष हैं जो कामुक कहलाएंगे और वे कौन सी स्त्रियां हैं जिन्हें कामुक कहा जाएगा। कुछ लोग सोचते हैं कि कामुक का मतलब सिर्फ पुरुषों से है। ऐसा नहीं है, इस आर्टिकल में हम इसे क्लियर कर देंगे।

तो चलिए बिना किसी देरी किए आपको सबसे पहले बता देते हैं कि आखिर कामुक कौन होता है और उसे कामुक ही क्यों कहते हैं। आखिर कामुक शब्द इतना पॉपुलर कैसे हो गया। तो चलिए सबसे पहले जानते हैं कि कामुक का मतलब क्या होता है यानी kamuk ka matlab kya hota hai

kamuk ka matlab kya hota hai

कामुक का मतलब क्या होता है हिंदी में | kamuk ka matlab kya hota hai

कामुक यानी काम वासना वाला इंसान। यानी ऐसे पुरुष या स्त्री जो हर समय संभोग के बारे में सोचते रहते हैं उन्हें कामुक कहा जाएगा। सरल शब्दों में कहें तो ऐसे पुरुष जिन्हें स्त्री को देखते ही अंदर काम वासना जग जाए वे कामुक होंगे और ऐसी स्त्री जिन्हें पुरुष दिखते ही उनके भीतर काम वासना जग जाए वे कामुक स्त्री होंगी।

कामुक इंसान हर समय मांसल बदन को देखता है। यानी उसे हर चीज में भोग ही नजर आता है। वह हर स्त्री को अश्लील नजरिए से देखेगा। किसी स्त्री का चेहरा देखने की जगह वह उनके प्राइवेट पार्ट्स देखना अधिक पसंद करता है। वह दोस्तों से बातचीत में भी अक्सर गंदी और अश्लील बातें करता है।

इसी तरह से वे लड़कियां जो अपनी सहेलियों से बातचीत में हमेशा गंदी बातें करें उन्हें कामुक लड़की या स्त्री कहा जाएगा। उनके भीतर काम वासना कूट-कूटकर भरी होती है। वे सोते–जागते हर समय बस किसी की बांहों में खोकर संभोग करने का सपना देख रही होती हैं। ऐसी स्त्रियों को कामुक स्त्री कहा जाएगा।

इसी तरह से अगर पुरुषों की बात करें तो ये पुरुष हर स्त्री या लड़की को हमेशा ही भोग की वस्तु के रूप में देखते हैं। हर स्त्री के भीतर इन्हें संभोग का साधन ही दिखता है। वे कैसे भी उसे पा लेना चाहते हैं। मसल देना चाहते हैं। इस तरह की गंदी मानसिकता के कारण ही इन्हें अश्लील इंसान भी कहा जाता है। kamuk ka matlab kya hota hai के तहत अब जानिए कामुक पुरुष कौन होते हैं।

कामुक पुरुष किसे कहते हैं | kamuk ka matlab kya hota hai

कामुक पुरुष उस पुरुष को कहते हैं जिसके भीतर हमेशा ही काम वासना रहती है। वह किसी को भी वासना के नजरिए से देखता है। वह हर स्त्री को देखते ही उसके साथ संभोग करने का सपना देखने लगता है। उसे हर स्त्री में सिर्फ वस्तु नजर आती है। वह हर स्त्री के साथ सोना चाहता है। ऐसा इंसान कामुक पुरुष कहा जाएगा।

ऐसे इंसान को समाज के लिए खतरनाक माना जाता है। यही वजह है कि कामुक इंसान से लड़कियों को दूर रखा जाता है। कामुक इंसान हमेशा ही अश्लील फिल्में देखेगा और वैसा ही करना चाहेगा। ये इंसान बहुत ही गलत होते हैं। क्योंकि इनका नेचर हर लड़की या स्त्री के प्रति एक जैसा ही होता है।

ये कामना की इच्छा रखने वाला इंसान होता है। यानी इसके अंदर किसी भी लड़की को पा लेने की हमेशा ही इच्छा होती है। ये इच्छा कई बार इतनी बड़ी हो जाती है कि ये जोर जबरदस्ती तक करने लगते हैं।

कामुकता क्या होता है | kamuk ka matlab kya hota hai

कामुक इंसान के व्यवहार को ही कामुकता कहते हैं। यानी ऐसा पुरुष जो कामुक है उसका जो नेचर है उसे कामुकता कहा जाएगा। यानी वह पुरुष जो हर समय काम या वासना में डूबा हुआ है उसके नेचर को कामुकता कहेंगे। सरल शब्दों में कहें तो कामुकता कामुक का विशेषण है।

कामुक इंसान की विशेषता है कि वे कामुकता भरे होते हैं। कामुकता के कारण ही उस इंसान के भीतर हवस हमेशा बना रहता है। वह हमेशा ही किसी को पाने की इच्छा रखता है। उसे पाने के लिए वह किसी भी हद तक जा सकता है। ऐसे कामुक इंसान के रवेयै को हम कामुकता नाम देंगे>

इसे भी पढ़ें-

सेक्स एजुकेशन की सारी स्टोरी यहां एक क्लिक में पढ़ें

घर बैठे पैसे कमाने के लिए यहां क्लिक करें

कामुक स्वभाव का क्या मतलब होता है | kamuk ka matlab kya hota hai

कुछ लोग कामुक स्वभाव के व्यक्ति को प्रेमी व्यक्ति भी कहते हैं। मैं इसे नहीं मानता। अगर वह प्रेमी है तो फिर कामुक नहीं हो सकता। प्रेम में समर्पण होता है, कामुक इंसान के भीतर समर्पण नहीं होता। प्रेम में आलिंगन ही बहुत कुछ है। लेकिन कामुक इंसान संभोग से नीचे कुछ सोचता ही नहीं। ऐसे में कामुक स्वभाव को मतलब है कि कोई भी इंसान जो हवस के बारे में सोचे वही कामुक है।

हालांकि कुछ लोग इससे इत्तेफाक नहीं रखते। वे कहते हैं कि कामुक इंसान इतना भी बुरा नहीं होता। उनका कहना है कि प्रेम में पड़ा व्यक्ति भी कामुक हो सकता है। जी नहीं. यह गलत व्याख्या है। प्रेम को अगर आप कामुकता से जोड़ रहे हैं तो माफ कीजिएगा लेकिन आपको इसका मतलब शब्दों का सही ज्ञान नहीं है।

कहां प्यार यानी प्रेम जैसा व्यापक शब्द जो भगवान कृष्ण का पर्याय है और कहां कामुक जैसा वासना वाला तुच्छ शब्द। आप इन दोनों शब्दों को अगर एक तराजू पर तौल रहे हैं तो माफ कीजिएगा हम तो इसे नहीं मानेंगे। कामुकता हवस है जबकि प्रेम समर्पण है। कामुकता में कैसे भी पा पेने की जिद है लेकिन प्रेम में सबकुछ खो देने की चाहत है।

कामुकता सही है या गलत | kamuk ka matlab kya hota hai

देखिए कामुकता सही भी है और गलत भी है। आप अगर अपनी स्त्री के प्रति कामुक भाव रखते हैं और संभोग के लिए इस हथियार का प्रयोग करते हैं तो फिर यह बिल्कुल सही चीज है। क्योंकि तब यह कामुकता आपको तनाव से मुक्ति देगी और आपके गृहस्थ जीवन को खूबसूरत बनाएगी। लेकिन अगर कामुकता किसी भी स्त्री को देखकर आपके मन में हवस पैदा करे तो फिर गलत है। फिर आप समाज के लिए घातक हैं।

कामुकता अपने प्यार में होना चाहिए। अपनी पत्नी, अपनी प्रेमिका के लिए। अन्य औरतों के प्रति सम्मान का भाव होना चाहिए। अगर हर जगह कामुकता है तो फिर आप गलत हैं। आपके भीतर अगर सिर्फ कामुकता किसी भी स्त्री देह के लिए है तो फिर आप गलत हैं। फिर यह कामुकता हवस का प्रतीक है।

कामुक होना गलत है या सही | kamuk ka matlab kya hota hai

कामुक होना सही है अगर कामुक आप खुद के प्रति हैं. अपनी पत्नी और प्रेमिका के प्रति हैं। लेकिन किसी छोटी बच्ची या लड़की को देखकर भी आपका वासना हिलोर मारने लगे तो फिर यह गलत है। फिर वह कामुकता नहीं हुआ वह व्यसन हो गया। वह हवस हो गया। ऐसा करने पर आप चरित्रहीन हो गए।

ऐसे में साफ है कि कामुक होना गलत नहीं है लेकिन जिस रूप में कामुक हो रहे हैं उसे देखना होगा। अगर आपका कामुक होना अपनी स्त्री के लिए है तो बेशक होइए। लेकििन हर स्त्री के लिए आपके मन में हवस है तो गलत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.