Spread the love

कंडोम का इस्तेमाल कैसे होता है? कंडोम से क्या प्रेग्नेंट हो सकते हैं? कंडोम लगाने के फायदे नुकसान, condom kya hota hai hindi me

दोस्तों, क्या आप जानना चाहते हैं कि कंडोम क्या होता है (condom kya hota hai hindi me) और इसका इस्तेमाल कैसे करें? तो आप बिल्कुल सही जगह पर हैं। यहां हम आपको बताएंगे कि कंडोम लगाने से क्या होता है? कंडोम के फायदे और नुकसान भी गिनाएंगे। साथ ही यह भी बताएंगे कि मेल और फीमेल कंडोम में क्या अंतर है? कंडोम कितने प्रकार के होते हैं? इसकी भी जानकारी देंगे। मतलब कंडोम से जुड़ी सारी जानकारी आपको यहां मिल जाएगी। तो इस आर्टिकल को अंत तक पढ़िएगा।

कंडोम एक पतला ट्यूब जैसा कवर होता है जो कि प्लास्टिक से बना होता है। सेक्स से पहले पुरुष इसे अपने लिंग पर पहनता है। इससे यह सुरक्षित यौन संबंंध के साथ-साथ अनचाहे प्रग्नेंसी से बचाता है। आसान शब्दों में कहें तो अगर आप सेक्स का मजा भी लेना चाहते हैं लेकिन यह भी चाहते हैं कि आपकी पार्टनर गर्भवती भी ना हों तो फिर कंडोम लगाकर ही सेक्स कीजिए।

कई बार लोग सेक्स वर्कर्स या कॉल गर्ल्स के साथ सेक्स करते हैं। उस स्थिति में कंडोम बेहद जरूरी हो जाता है। क्योंकि अगर बिना कंडोम के किसी सेक्स वर्कर या कॉल गर्ल के साथ आप शारीरिक संबंध बनाते हैं तो फिर वहां एड्स जैसे गंभीर बीमारी का खतरा होता है। जबकि अगर कंडोम पहनकर सेक्स करते हैं तो आप सुरक्षित यौन संबंध बनाते हैं और किसी भी तरह के इंफेक्शन या बीमारी से दूर रहते हैं। तो चलिए दोस्तों, condom kya hota hai hindi me? इसके बारे में विस्तार से बात करते हैं।

कंडोम क्या होता है हिंदी में | condom kya hota hai hindi me

कंडोम रबड़ और प्लास्टिक से बना हुआ एक गुब्बारे के आकार का पाउच होता है जिसे सेक्स से पहले पुरुष के लिंग पर पहना जाता है। वहीं, महिला कंडोम को सेक्स के पहले महिला के योनि में डाला जाता है। इसे पहनकर सेक्स करने से आपका वीर्य आपके पार्टनर के योनि में नहीं जाता है। इससे अनचाहे गर्भ से छुटकारा मिलता है। इसके अलावा यह एड्स या अन्य यौन रोगों से भी बचाता है।

एक आंकड़े के मुताबिक अगर आप सही तरीके से कंडोम अपने लिंग पर पहनते हैं या महिला अपनी योनि में सही तरीके से कंडोम डाल लेती है और उसके बाद सेक्स करते हैं तो यह 87 फीसदी से लेकर 98 फीसदी तक गर्भावस्था को रोकने में सक्षम रहता है। हालांकि 2 फीसदी चांस तभी होता है कि महिला प्रेग्नेंट हो सकती है। इसके पीछे वजह यह होती है कि कई बार सेक्स के दौरान कंडोम फट जाता है और वीर्य बह जाता है। या फिर कभी कभी कंडोम में ही छेद होता है। इस पर नीचे इसी स्टोरी में बात करेंगे।

फिलहाल तो इतना जान लीजिए कि अगर आप अभी परिवार बढ़ाना नहीं चाहते यानी नहीं चाहते कि अभी बच्चे पैदा हों और आपकी नई शादी हुई है तो सेक्स का मजा भी लेना है तो फिर बिना कंडोम पहने आप सेक्स ना करें। इसके अलावा अगर आपकी शादी नहीं हुई है और आप बाहर किसी अन्य के साथ सेक्स कर रहे हैं तो सुरक्षित यौन संबंध के लिए भी कंडोम जरूर पहनें।

कंडोम लगाने से क्या होता है हिंदी में

कंडोम लगाने से आप अनचाहे प्रेग्नेंसी से बच जाते हैं। कई बार सेक्स के दौरान मदहोशी में पुरुष अपना वीर्य रोक नहीं पाता है और कंडोम नहीं होने के कारण वीर्य सीधे योनि में पहुंच जाता है और गर्भ रुक जाता है। आपकी फैमिली प्लानिंग नहीं थी लेकिन गलती से ऐसा हो गया। तो यह गलती ना हो इसके लिए कंडोम पहनकर सेक्स कीजिए।

इसके अलावा कई बार होता है कि आप अपने पार्टनर के साथ मस्ती के पल बिताते हुए बहुत ही कामुक हो जाते हैं और फिर आप दोनों लोग सेक्स के लिए तैयार हो जाते हैं। लेकिन कंडोम नहीं होने के कारण यहां मामला गड़बड़ हो सकता है। आपकी प्रेमिका गर्भवती हो सकती है जो कि आप बिल्कुल नहीं चाहेंगे। मौज मस्ती में कोई बड़ा कांड हो जाए, ऐसा भला कौन चाहता है। इसलिए अगर आप ऐसा कोई मन बना रहे हैं तो कंडोम पहले से खरीदकर रखें।

वहीं, जो लोग सेक्स गर्ल्स, सेक्स वर्कर या फिर कॉल गर्ल्स के साथ सेक्स करते हैं उन्हें तो कंडोम पहनना बिल्कुल ही अनिवार्य है। क्योंकि आप नहीं जानते कि सामने वाली महिला को कोई यौन रोग है या नहीं। उसने आपसे पहले कितने ही पुरुषों के साथ शारीरिक संबंध बनाए हैं। आप बिना कुछ जाने उस अजनबी महिला के साथ सेक्स करने जा रहे हैं। ऐसे में एड्स जैसी भयानक बीमारी भी आपको हो सकती है। तो फिर सुरक्षित यौन संबंध के लिए इस तरह की महिला से कंडोम पहनकर ही सेक्स कीजिए।

कंडोम का इस्तेमाल कैसे होता है?

कंडोम का इस्तेमाल पुरुष और महिला के लिए अलग-अलग होता है। पहले सिर्फ पुरुष ही सेक्स से पहले कंडोम पहनते थे लेकिन अब महिलाएं भी कंडोम पहनने लगी हैं और इस तरफ आकर्षित हुई हैं। तो चलिए आपको पुरुष और महिला दोनों कंडोम के इस्तेमाल के बारे में बताते हैं-

पुरुष कंडोम का इस्तेमाल कैसे करें | पुरुष कंडोम के उचित उपयोग की जानकारी

  • कंडोम के पैकेट को किनारे से आराम से फाड़ें। फाड़ने से पहले इसका एक्सपायरी डेट देख लें। कैंची से न काटें वरना कंडोम फट सकता है।
  • अब देखिए कि आपका कंडोम किस तरफ खुल रहा है। अगर कंडोम उल्टा हुआ तो फिर वह आपके लिंग पर कभी नहीं चढ़ेगा। तो उसे सीधी तरफ से पकड़िए।
  • अब अपनी पार्टनर से कहिए कि वह आपके लिंग को सहलाए या फिर आप खुद अपने लिंग को उत्तेजित करने की कोशिश कीजिए।
  • यह जान लीजिए कि जब तक आपका लिंग तनेगा नहीं तब तक कंडोम उस पर चढ़ेगा नहीं।
  • अब अगर आपका लिंग तन गया है तो आगे के सिरे से कंडोम बनाकर उसे हल्के हाथों से ऊपर की तरफ सरकाइए।
  • अब आप कंडोम पहन चुके हैं। अब सेक्स का आनंद लीजिए और हां एक बार के सेक्स में एक ही कंडोम का इस्तेमाल कीजिए वरना आपका पार्टनर कंडोम के किसी भी कोने में लगे वीर्य से गर्भवती हो सकती है।

महिला कंडोम (फीमेल कंडोम) का इस्तेमाल कैसे करें | महिलाएं कैसे पहनती हैं कंडोम

महिला कंडोम (फीमेल कंडोम) की बनावट थोड़ी अलग होती है। यह इसलिए क्योंकि महिलाओं की योनि भी पुरुषों के लिंग से अलग है। इसलिए महिलाओं का कंडोम ऊपर से तो पहना नहीं जाएगा तो इसे योनि के भीतर डाला जाता है। नीचे इसकी पूरी विधि बता रहा हूं-

  • इस कंडोम का इस्तेमाल करने के लिए महिलाओं को किसी एक ऐसे आरामदायक जगह पर बैठना या लेटना होगा जिससे यह कंडोम सीधे उनके योनि के भीतर प्रवेश कर जाए।
  • आप बैठकर, लेटकर या फिर एक पैर कुर्सी के ऊपर रखकर इस पोजिशन में आ सकती हैं।
  • अब कंडोम को पैकेट से निकालिए और इसके दोनों किनारों को ऐसे पकड़िए जैसे पेंसिल को पकड़ती हैं।
  • अब अंदर की रिंग को दबाइए ताकि दोनों कोने एक दूसरे को छूने लगें।
  • अब अंदर की रिंग को जहां तक वह अंदर जा सके उसे धकेलिए। कंडोम को मजबूती से बाहर से पकड़े रहिए।
  • उंगली से जैसे ही इसे अंदर करेंगी और यह गर्भाशय तक पहुंच जाएगा तो फिर यह अपने आप अंदर जाकर फैल जाएगा।
  • इसके बाद आपको यह भी सुनिश्चित करना है इस कंडोम का बाहरी रिंग आपकी योनि से कम से कम एक या दो इंच बाहर रहे क्योंकि इसी में आपका पार्टनर अपना लिंग डालकर सेक्स करेगा।
  • अब आपका पार्टनर अपना लिंग इसी बाहर लटक रहे रिंग में डालेगा और अंदर तक उसका लिंग चला जाएगा जिससे आपको सेक्स में मजा आएगा।
  • यह ध्यान रखिए कि महिला कंडोम सेक्स के दौरान हिलता डुलता है तो फिर आप परेशान मत होइएगा कि सही से लगा है या नहीं।

इसे भी पढ़ें

सेक्स एजुकेशन से जुड़ी हर जानकारी यहां है सिर्फ एक क्लिक पर

लड़के लड़कियों की हॉट शायरी, एटीट्यूड शायरी

कंडोम लगाने के फायदे नुकसान

कंडोम के फायदे हैं तो कुछ नुकसान भी है। यह सही है कि कंडोम अनचाहे गर्भ धारण करने से बचाता है। यौन रोगों से सुरक्षित करता है पर कुछ इसके नुकसान भी हैं जिसे हम नीचे बताने जा रहे हैं।

कंडोम लगाने के फायदे

  • अनचाहे गर्भावस्था से बचाता है
  • फैमिली प्लानिंग के लिए बेस्ट है
  • जनसंख्या नियंत्रण में मददगार है
  • एड्स जैसे संक्रामक बीमारियों से बचाता है
  • यौन रोगों से बचाता है
  • मुख मैथुन का भी पूरा आनंद देता है चूंकि कई पार्टनर आपके प्राइवेट पार्ट को सीधे मुंह में लेने में हिचकते हैं लेकिन कंडोम के फ्लेवर के कारण उन्हें आनंद आता है।

कंडोम लगाने के नुकसान

  • कंडोम रबर से बना होता है इसलिए इससे योनि के भीतर एलर्जी हो सकती है।
  • चूंकि कंडोम बाहरी त्वचा का रक्षा नहीं करता है इसलिए जलन हो सकती है।
  • कितना भी मजबूत हो कंडोम लेकिन वह फट सकता इसलिए गर्भावस्था का डर भी बना रहता है।
  • कंडोम के फटने की आशंका के कारण यौन संबंधों को भी पूरी तरह से सुरक्षित नहीं माना जा सकता है।
  • महिला कंडोम को सही से नहीं पहना गया तो फिर सेक्स के दौरान दिक्कत हो सकती है।

(दोस्तो, उम्मीद है कि कंडोम के बारे में पूरी जानकारी आपको मिल गई होगी। इससे जुड़ा कोई भी सवाल आपके मन में हो तो नीचे कमेंट करें हमारे एक्सपर्ट उसका जवाब जरूर देंगे। यहां आने के लिए लव यू दोस्तों, आते रहिए और प्यार बरसाते रहिए..।)




Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.